Guvava (अमरूद) खाने के 11 अनोखे फ़ायदे।

Share Karo Na !
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Guvava (अमरूद) में अनेकों पोषक तत्व पाए जाते हैं। जिससे हमारे शरीर में होने वाली अनगिनत बीमारियों से बचाता है। यह एक अमृत फल है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट और फाइबर  भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।

आज इस ब्लॉग के माध्यम से अमरूद के 10 अनोखे फ़ायदे के बारे में जानेंगे। अमरूद एक आसानी से मिलने वाला फल है। यह भारत के लगभग सभी हिस्सों में पाया जाता है।

Guvava
Guvava

100 ग्राम अमरूद में पाए जाने वाले पौष्टिक तत्व-

• पानी (Water)- 76.1 mg

• प्रोटीन (Protein)- 2.55 ग्राम

• Fat- 0.95 ग्राम

• Carbohydrate (Sugar 8.92 ग्राम + Fiber 5.4 ग्राम)- 14.32 ग्राम

• कैल्शियम (Calcium)- 18 mg

• Phosphorus – 40 mg

• Iron- 0.26 mg

• Vitamin C- 228.3 mg

• Magnesium- 22 mg

• Manganese- 0.15 mg

• Potassium- 417 mg

• Sodium- 2 mg

• Zinc- 0.23 mg

• Vitamin B6- 0.11 mg

• Vitamin A

अमरूद खाने के अनोखे फ़ायदे (Benefits of Guvava)-

1- पाचन (Digestion) शक्ति को मजबूत बनाने में-

अमरूद में विटामिन सी, पोटैसियम, कैरेटोनॉएड्स आदि प्रचुर मात्रा में मिलते हैं। जिससे हमारा पाचन प्रक्रिया में मजबूती और इसके क्रिया में सुधार आता है। इसमें बैक्टीरिया को मारने वाले भी गुण पाए जाते हैं। अमरूद विशेष तौर पर क्षारीय होता है। इसलिए जब कभी भी डायरिया या पेचिस की शिकायत होती है तो उस स्थिति में अमरूद खाने से आराम मिलता है। पेट भी साफ होता है और गैस भी नहीं बनता है।

इसके अलावा यदि आप इसके पत्ते (30 ग्राम) को एक या दो गिलास पानी में एक मुठ्ठी चावल के आटे के साथ उबाल कर काढ़ा तैयार कर लेंते हैं और डायरिया होने पर इसका सेवन करते हैं तो आपको आराम मिलेगा।

पेचिस होने पर अमरूद की पत्तियां और जड़ को 20 से 30 मिनट पानी के साथ उबले। इसको पीने से पेचिस में राहत मिलेगा।

2- वजन (Body weight) को कम करने में-

अमरूद  में फाइबर, प्रोटीन, विटामिन्स, एंटीऑक्सिडेंट प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। इसके अलावा इसमें कोलेस्ट्रॉल की मौजूदगी नहीं होता है। इसमें देर तक पचाने वाला कार्बोहाइड्रेट होता है। जिसके कारण यदि आप अमरूद का सेवन करते हैं तो आपको जल्दी भूख नहीं लगती है। जिसके कारण आप खाना कम खाते हैं।

जो लोग दोपहर के समय अमरूद का सेवन करते हैं तो उनको शाम तक भूख नहीं लगती है। जिसके कारण वे बार बार भोजन नहीं करते हैं। इसमें शुगर की मात्रा भी बहुत कम होता है। यहां तक कि यदि इसका उपयोग दुबले पतले लोग करते हैं तो अमरूद में पाई जाने वाली मिनरल्स और विटामिन्स के कारण उनके शरीर के वजन में लगता है।

3- मधुमेह (Diabetes) को नियंत्रित करने में-

अमरूद  में बहुत अधिक मात्रा फाइबर पाया जाता है जो कार्बोहायड्रेट के अवशोषण में सुधार लाता है और इन्सुलिन के स्तर में स्थिरता बनाये रखता है। अध्ययनों के अनुसार अमरूद टाइप -2 शुगर से शरीर को ग्रस्त करने से रोकता है।

4- कैंसर (Cancer) को रोकने में-

यदि आप अपने आहार में अमरूद को शामिल करते हैं तो आपके शरीर में कैंसर के कोशिकाओं से लड़ने में मदद मिलती है।

अमरूद कैंसर  कोशिकाओं के विकास को रोक देता है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। जिसके कारण शरीर में बन रहे मुक्त रैडिकल्स (Free Radicals) को रोक देता है। इसके नियमित सेवन करने से प्रोटेस्ट और ब्रेस्ट कैंसर को कम करने में मदद मिलती है। इसमें विटामिन सी भी अच्छे मात्रा में मिलता है। जिसके कारण यह शरीर के प्रतिरिधक क्षमता को बढ़ाता है।

5- स्कर्वी रोग में-

हम सभी जानते हैं कि स्कर्वी रोग विटामिन सी की कमी के कारण होता है। अमरूद में Vitamin C प्रचुर मात्रा में मिलता है। इसके सेवन से स्कर्वी रोग ठीक हो जाता है। यदि आप इसे नियमित रूप से सेवन करते हैं तो आपको यह रोग कभी भी नहीं होता है।

6- थायरॉइड (Thyroid) को नियंत्रित करने में-

अमरूद (Guvava) कॉपर की अच्छी मात्रा पाई जाती है। जो थायरॉइड के प्रोडक्शन और Absorption (अवशोषण) को नियंत्रित करने में मदद करता है। यदि आप नियमित रूप से इस फल का सेवन करते हैं तो थायरॉइड की बीमारी नहीं होती है।

7- कब्ज (Constipation) को दूर करने में मदद-

अमरूद को नियमित रूप से सेवन करने से कब्ज की शिकायत दूर हो जाती है। इसमें फाइबर की मात्रा बहुत अच्छी होती है जिसके कारण पेट अच्छे से साफ होता है। और कब्ज की शिकायत दूर हो जाती है। पाचन तंत्र को भी ठीक करता है।

8- दिमाग (Mind) को तेज करने में-

अमरूद में Vitamin B की मात्रा पाई जाती है जो शरीर में खून के प्रवाह को सही रखने में मदद करता है। जिसके कारण दिमाग में खून का प्रवाह सही रहता है, जिसके कारण दिमाग स्वस्थ रहता है और अच्छे से काम करता है।

9-  ऑक्सिडेशन प्रक्रिया (Oxidation process) को कम करना-

अमरूद (Guvava) में Anti oxidant तत्व भरपूर मात्रा में मिलते हैं। जिसके कारण शरीर में उपापचय प्रक्रिया के बाद निकलने वाले फ्री रेडिकल्स को मार देता है। जिसके कारण शरीर में ऑक्सिडेशन प्रक्रिया कम हो जाती है।

पालक के फायदे (Benefits of Spinach)

10- त्वचा (Skin) को जवान रखने में-

यदि आप नियमित रूप से अमरूद का सेवन करते हैं तो आपके त्वचा हमेशा जवान दिखेंगे। इस फल में Anti oxidant तत्व भरपूर मात्रा में मिलते हैं जो Oxidation process को कम करते हैं। जिससे हमारे शरीर की त्वचा जवां दिखती है। यदि हमारे शरीर में  ऑक्सिडेशन प्रक्रिया अधिक होती है तो हम जल्दी बूढ़े होते हैं।

11- कोलेस्ट्रॉल (Cholestrol) को नियंत्रित करने में-

इसमें पोटैसियम की अच्छी मात्रा पाई जाती है जो ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के साथ कोलेस्ट्रॉल को भी ठीक रखता है।

अमरूद (Guvava) खाने के नुकसान-

वैसे तो अमरूद एक अमृत फल है। लेकिन कभी कभी इसके कुछ दुष्प्रभाव भी हो जाते हैं।

1- इसके बहुत अधिक सेवन से पेट में दर्द हो सकता है।

2- बहुत अधिक फाइबर होने के कारण डायरिया होने का चांस रहता है।

3- कुछ स्थितियों में इसके सेवन से बचना चाहिए। जैसे यदि आपको पोटैसियम के सेवन को कम करना है और यदि आप इसका सेवन करते हैं तो आपको दिक्कत हो जाएगी।

Note- यह एक Informational blog है। लेख पसंद आया हो तो अपनी राय comment के माध्यम से जरूर दें।

 

 

 


Share Karo Na !
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment