Stamina (स्टैमिना) कैसे बढ़ाएं? योग करने के लाभ

Share Karo Na !
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

 

Stamina का मतलब होता है सहनशीलता। हम जानते हैं कि किसी भी कार्य को करने के लिए Stamina (सहनशीलता) की बहुत जरूरत होती है। इसके बिना आप किसी भी काम को मन लगाकर नही कर सकते।

दोस्तों, आज के इस भाग दौड़ भरी जिंदगी में तनाव (Tension), अनिद्रा, आदि की समस्या होना एक आम बात हो गयी है। जिसके कारण हमारे शरीर की सहनशीलता कम होते जा रही है।

जिससे हमारा काम भी प्रभावित हो रहा है। इसीलिए हमारे शारिरिक क्षमता को बढ़ाने के लिए Stamina (सहनशीलता) की बहुत जरुरत होती है।

जब आपके शरीर की सहनशक्ति बढ़ती है तो थकावट, कमजोरी, काम मे मन न लगना, शिथिलता, सेक्स के लिए उत्तेजना में कमी आदि दूर हो जाती है। और आपकी परफॉर्मेंस बढ़ जाती है।

Stamina कैसे बढ़ाएं-

योग आपके शरीर की स्टैमिना (सहनशीलता) को बढ़ाने में बहुत मदद करता है। योग करने से आप शारीरिक और मानसिक दोनों से आप मजबूत होते हैं।

इसीलिए यदि आप रोजाना योग करते हैं तो स्वस्थ शरीर और दैनिक कार्यों को करने के लिए नई ऊर्जा मिलती है।

यदि आप योग के साथ साथ व्यायाम (Exercise) भी करते हैं तो आपके शरीर मे स्टैमिना (सहनशीलता) दोगुनी गति से बढती है।

योग और व्यायाम करने से हमारे शरीर मे रक्त का संचार बहुत अच्छा से होता है। पूरे शरीर मे रक्त आसानी से और पर्याप्त मात्रा में पहुँच जाता है। जिससे हमारे शरीर की कार्यक्षमता बढ़ जाती है।

विभिन्न प्रकार के योग और उसके लाभ-

अपने आप को दिन भर ऊर्जावान बनाये रखने के लिए कुछ योगा निम्नलिखित है-

1– सेतुबंध योगा (Bridge yoga)-

Stamina
Bridge yoga

शरीर की Stamina (सहनशीलता) और कार्यक्षमता बढ़ाने के लिये सेतुबंध योगा (Bridge yoga) बहुत ही फायदेमंद है। इसके साथ साथ यह योगा पाचन शक्ति और गले की खराश को भी ठीक करता है।

सेतुबंध योगा (Bridge yoga) करने के आप पीठ के बल लेट जाएं। इसके बाद पैरों को घुटने के यहाँ से मोड़े और अपने कुल्हे को फर्श से उठा लें। अपने दोनों हाथों को पीठ के नीचे से ले जाएं और दोनों पैरों के निचले हिस्से को पकड़े। इसी तरह रहते हुए लगभग 40 सेकंड तक रहे।

इसके बाद पुनः अपने सामान्य स्थिति में आ जाये। ऐसे ही करीब 6 से 7 बार करें। आपके Stamina (सहनशीलता) को बढ़ाने में बहुत मदद मिलेगी। धीरे धीरे सेतुबंध योगा (Bridge yoga) करने के समय को बढ़ाते रहे ।

2– नवासना योगा (Navasana yoga)-

Stamina
Navasana yoga

नवासना योगा को नौकासन (नौका आसन) के नाम से भी जाता है। नौकासन योग को करने से आपके शरीर की Stamina बढ़ता है। इस योग को करने से वजन भी कम होता है।

नवासना योग करने के लिए अपने दोनों पैरों को सीधा करके बैठ जायें। अपनी रीढ़ की हड्डी को सीधा रखते हुए अपने हाथों को सीधा रखें। अब दोनों पैरों को सीधा रखते हुए ऊपर की ओर (लगभग 45°) उठाये।

संतुलन बनाये रखने के लिए आप थोड़ा सा पीछे की ओर झुक जाए और हाथों को ऊपर की ओर सीधा करते हुये उठाये। ऐसे ही लगभग 5 मिनट रोजाना करें। नवासना योग करने से आपके शरीर की Stamina बढेगा।

3- उष्ट्रासन योग (Ustrasan yog)-

Stamina
Utrasna yoga

उष्ट्रासन योग को कैमल स्थिति के नाम से भी जाना जाता है। उष्ट्रासन योग को करने से आपके शरीर मे दिन भर ऊर्जा बनी रहती है और आप अपने काम को पूरे मन के साथ करते हैं। आपकी कार्यक्षमता भी बढ़ती है।

इस आसन को करने से आपके शरीर मे रक्त संचार भी बढ़िया होने लगता है। और आप दिनभर तरोताज़ा महसूस करते हैं।

उष्ट्रासन योग करने के लिए आप घुटनों के बल खड़े हो जाइये। अपने कमर के यहां से झुक जाइये और अपने हाथों को पीछे लेकर जाइये। अपने सिर को पीछे की ओर झुका ले और अपने हाथों को अपने पैर के एड़ियों से संपर्क रखें।

ऐसा आप लगभग 30 सेकंड से 60 सेकंड तक इसी मुद्रा में रहने का प्रयास करें। ऐसे आपको काम से कम 5 बार करना पड़ेगा।

4- पद्मासना योग (Padmasana yoga)-

Stamina
Padamasana yoga

पद्मासना योग एक ध्यान मुद्रा स्थिति है। जो आपकी आध्यात्मिक और ज्ञानवर्धक स्थिति को दर्शाता है। पद्मासन योग करने से आपके शरीर मे नई ऊर्जा का संचार होता है।

आपका शरीर ऊर्जावान हो जाता है। आपके दिमाग को शांत करता है।

पद्मासन योग करने के लिए आप दंडासन की स्थिति में बैठ जाये। अपनी रीढ़ की हड्डी को सीधा रखें। अब आप अपने दाएं पैर को मोड कर अपने बाये पैर पर रखें और अपने बाए पैर को मोड़कर अपने दाएं पैर पर रखें। आपके दोनों हाथों को सीधा रखते हुए अपने घुटने पर रख लें।

इसके बाद अपने आखों को बंद करके ध्यान मुद्रा में बैठ जाये। इस आसन को लगभग 5 मिनट रोजाना करिए।

5- भुजंग आसन योग (Bhujang yog)-

Stamina
Bhuajangasan yoga

भुजंग आसन आपके शरीर के Stamina को बढ़ाने में बहुत मदद करता है। इस आसन को करने से आपकी छाती चौड़ी और पीठ मजबूत होता है।

यह आसन उन लोगो के लिए है जो अपने शरीर को मजबूत और कठोर बनाना चाहते हैं।

भुजंग आसान करने के लिए आप अपने पेट के बल लेट जाइये। अपने तलवे को ऊपर रखिये। अपने हाथों को छाती के बराबर रखें। अब अपने हथेली पर जोर डालते हुए, अपने छाती को ऊपर की ओर उठाये। जितना उठा सकते हो। अपने सिर को ऊपर उठाते हुए पीछे की ओर ले जाये। अपने शरीर के नीचे के हिस्सों को फर्श पर ही रखें। इसे लगभग 30 सेकंड तक रोक कर रखें।

ऐसे कम से कम 5 बार करें। इसको करने से आपके शरीर मे लचीलापन भी आता है। पीठ और गर्दन का दर्द गायब हो जाता है। आप दिन भर तरोताज़ा महसूस करेंगे।

6- धनुरासन योग (Dhanurasana yog)-

Stamina
Dhanurasana yoga

धनुरासन करने से आपकी दौड़ने की Stamina बढ़ता है। इसे करने से आपके रीढ़ की हड्डियों में लचीलापन आता है। धनुरासन करने से आपका वजन भी नियंत्रित रहता है।

धनुरासन करने के लिए आप पेट के बल लेट जाइये। अब आप अपने दोनों हाथों को अपने शरीर के समानांतर रखे। अब आप अपने घुटने पीछे की ओर मोड़े। अब आप अपने हाथों से अपने दोनों पैरों को पकड़े।

इस मुद्रा में लगभग 30 सेकंड तक रहे। ऐसे ही लगभग 4 से 5 बार करें। अंत मे दोनों हाथों को खोलकर पुनः अपने प्रारंभिक स्थिति में आ जाए।

7- बकासन योग (Bakasana yog)-

Stamina
Bakasana yoga

बकासना को अंग्रेजी में क्रेन मुद्रा कहते हैं। इस आसन को करने से सेक्स करने की Stamina बढता है। इस आसन को करने से आपके हाथों में भी मजबूती आती है।

बकासना को करने के लिए सबसे पहले आप अपने घुटने के बल बैठ जायें। अब आप अपने दोनों हाथों को फर्श पर रखें, और पेट को अपने बाहों पर अच्छे से सेट कर लें। अब आप अपने दोनों पैरों को उठा लीजिए।

अब आपके शरीर का सारा भार अपने हाथों पर होगा। अपने हाथों पर शरीर के भार का संतुलन बनाये रखें। अपनी कार्यक्षमता बढ़ाने के लिए कम से कम 5 मिनट तक इसी मुद्रा में रहें।

8- मत्स्यासन योग (Matyasan yog)-

Stamina
Matasyasana yog

मत्स्यासन योग की स्थिति मछली के समान दिखाई देती है। इस योग को करने से आपके शरीर की Stamina बढ़ाने में मदद मिलती है।

मत्स्यासन योग करने से पाचन शक्ति, रक्त संचार, प्रजनन, और हृदय का कार्य अच्छा रहता है।

मत्स्यासन योग करने के लिए आप पद्मासन योग की स्थिति में बैठ जाइये, उसके बाद अपने दोनों हाथों से पैरों के अंगूठे को पकड़ कर पीछे की ओर लेट जाइये। अपने सिर को जमीन पर रखें। इस आसन को लगभग 5 से 6 मिनट तक करें।

9- शीर्षासन योग (Shishasana yog)-

Stamina
Shishasana yog

शीर्षासन योग करने से आपके शरीर की Stamina बहुत अधिक बढ़ जाती है। शीर्षासन योग करने से आपके सिर में रक्त का संचार अच्छा हो जाता है। ऑक्सीजन की सप्लाई भी अच्छी हो जाती है।

इस आसन को सिर दर्द करने की स्थिति में करते हैं तो आपका सिर दर्द भी ठीक हो जाता है।

शीर्षासन योग करने के लिए आप अपने घुटनों के बल बैठ जाये। अपने दोनों हथेली को फर्श पर रखे और उंगलियों को फर्श से जकड़े। अपने दोनों हाथों के बीच अपने सिर को रखें। इसके बाद धीरे धीरे अपने पैरों को ऊपर की ओर उठाये। दोनों पैरों को उठाने के बाद एक सिध में रखें। इस मुद्रा में लगभग 2 से 4 मिनट तक रहे।

शरीर मे ताकत, लचीलापन और Stamina बढ़ाने के लिए इसे नियमित रूप से करें।

Note- यह एक Informational blog है। उम्मीद करता हूँ कि आपको पसंद आया होगा।


Share Karo Na !
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment