Patanjali Shilajit Capsule uses। Side effects in हिन्दी

Share Karo Na !
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दोस्तों आज हम लोग Patanjali Shilajit Capsule के बारे में जानेंगे। सबसे पहले ये जानेंगे कि शिलाजीत क्या होता है? इसका क्या उपयोग है?  इसके क्या नुकसान (Side Effect ) है?

पतंजलि बाबा रामदेव की कंपनी है। जिसका पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल ब्रांड है।

Nature – Natural Shilajit

Manufactured by – Pushpanjali (New Delhi)

Marketed by – Patanjali

Composition of Patanjali Shilajit Capsule-

● Shilajeet sat dry

● Amla rasayan

शिलाजीत (Shilajit) क्या होता है?कहाँ से बनता है?

गर्मियों  में  जब सूर्य के तेज प्रकाश से पहाड़ो के शिलाओं से एक गाढ़ा स्राव बाहर  निकलता हैं,  इस स्राव को  शलजातु कहते हैं.  एक आदर्श शिलाजतु मृदु, स्निग्ध, स्वच्छ और गुरु होता हैं तथा उसमे से गौमूत्र के समान गंध आती हैं. यह पानी  में घुलनशील होता  हैं।  ज्यादातर यह नेपाल, भूटान, तिब्बत के पहाड़ों  में मिलता हैं. इसमें आलुबुमिनोइड्स, राल, वसाम्ल, बेंज़ोइक तथा हूपुरिक एसिड होते हैं.

शिलाजीत में एंटीऑक्सीडेंट और हुमिक तथा फुलविक एसिड सहित कई शक्तिशाली चीजे होते हैं.

शिलाजीत एक चिपचिपा पदार्थ है जो मुख्य रूप से हिमालय के चट्टानों में पाया जाता है. यह सदियों से पौधों की धीमी अपघटन से विकसित होता है. शिलाजीत आमतौर पर आयुर्वेदिक दवा में प्रयोग किया जाता है. यह बड़ा ही प्रभावी और सुरक्षित सप्लीमेंट है।

Uses and benefits of Patanjali Shilajit Capsule (पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल के उपयोग और फायदे )-

Shilajit
Patanjali Shilajit

आप लोगो के मन में यह सवाल जरूर होगा की शिलाजीत खाने से क्या होता है।आईये जानते हैं Shilajit के फायदे क्या क्या है?

Increase immunity ( प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना)

यह हमारे शरीर के प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। बाहरी बैक्टीरिया, वायरस, को शरीर मे आने से रोकता है। जिससे हमारा शरीर स्वस्थ्य रहता है।

Anti aging (उम्र के प्रभाव को कम करना)-

हमारे उम्र के प्रभाव को भी कम करता है।

Anti Oxidant (ऑक्सीकरण के प्रकिया को कम करना)-

ऑक्सीकरण की प्रक्रिया को कम कर देता है। जिससे हमारे शरीर मे Free radicals नही बन पाते हैं। और हमारा शरीर जवान और सुंदर दिखता है।

Weakness (कमजोरी में)-

इसके इस्तेमाल से हमारे शरीर की कमजोरी दूर होती है। यह हमारे शरीर को ऊर्जावान बनाता है। इसे महिला और पुरूष दोनों लोग इस्तेमाल कर सकते हैं।

Sexual problem (सेक्स की समस्या में)-

शिलाजीत का इस्तेमाल बहुत पुराने जमाने से हो रहा है। इसे राजा महाराजा अपने समय मे इस्तेमाल करते थे। पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल को आप सेक्स से संबंधित समस्याओं में बेहिचक इस्तेमाल कर सकते हैं। और यह सेक्स की समस्याओं से छुटकारा दिलाता है।

Increase semen amount (वीर्य के मात्रा को बढ़ाना)-

शरीर में वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या को बढ़ाता है और वीर्य के मात्रा को भी बढ़ाता है।

Regular menstrual cycle (मासिक धर्म को नियमित करना)-

महिलाओं में भी इस्तेमाल होता है। इसके प्रयोग से मासिक धर्म नियमित रहता है।

Working capacity (कार्य करने की क्षमता बढ़ाना)-

इसके नियमित सेवन करने से आपकी कार्य करने की क्षमता बढती है। आप किसी भी काम को बिना थके हारे कर सकते हैं।

Erectile dysfunction ( स्तंभन दोष)-

सेक्स करने के दौरान आपके शिश्न का खड़ा न हो पाना, Erectile Dysfunction कहलाता है। पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल के नियमित सेवन से आपका यह दोष खत्म हो जाएगा।

Old age (उम्रदराज लोगो मे)-

जैसे जैसे उम्र बढती है वैसे वैसे हमारे शरीर की ऊर्जा भी कम होती है। इसीलिए उम्रदराज लोगो के शरीर में भी ऊर्जा का लगातार संचार हो इसके लिए पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल का नियमित सेवन करना पड़ेगा।

Osteoporosis (ऑस्टियोपोरोसिस)-

ऑस्टियोपोरोसिस में भी इस्तेमाल करते हैं। इसके इस्तेमाल करने से ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या कम हो जाती है।

Diabetics ( डियाबेटिस)- इसको Diabetis से ग्रसित मरीज को भी दे सकते हैं। यह शरीर मे Blood Glucose level को नियंत्रित करता है। और Lipids profile को भी सही रखता है।

Weight and muscles gain(शरीर के भार और माँसपेशियों को बढ़ाना)-

शरीर के भार को बढ़ाता है। यदि कोई कमजोर व्यक्ति पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल को इस्तेमाल करता है तो वह व्यक्ति मजबूत और स्वस्थ्य हो सकता है।

Protect heart (हृदय की सुरक्षा)-

इसके नियमित सेवन से हृदय में Blood के Circulation को सही करता है। कई अध्ययन से साबित होता है कि शिलाजीत के सेवन से Heart attack का chance कम हो जाता है। यह हृदय के मांसपेशियों को सुरक्षित रखता है।

Improve memory function (याददाश्त को बेहतर करना)-

इसके सेवन से याददाश्त क्षमता बढ़ता है। क्यों कि शिलाजीत में Fulvic acid होता है जो Brain को स्वास्थ्य और याददाश्त को बढ़ाता है।

पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल को कब लेना चाहिए ? (Method of use of Patanjali Shilajit capsule)-

● रोज एक कैप्सूल सुबह और एक कैप्सूल शाम को दूध या पानी के साथ लेते हैं।

● जब आप इसको सुबह खाली पेट लेते है तो शरीर मे इसका Maximum absorption होता है।

● आप इसको Honey के साथ मिला कर भी ले सकते हैं। Honey के साथ लेने पर आपको Gastritis और Stomach ulcer की समस्या नही होगी।

Side effects of Patanjali Shilajit  capsule (पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल के दुष्प्रभाव)-

Sickle cell anemia ( RBC का असामान्य आकृति)-

सामान्यतः RBC (Red Blood Cells) की आकृति Discs के जैसी होती है। जिससे ये आसानी से Blood vessels में यात्रा करती हैं। Sickle cell anemia के बीमारी में RBC की आकर असामान्य Crescent shape में हो जाता है। जिसके कारण यह कठोर और चिपचिपा हो जाता है और आसानी से Blood vessels में यात्रा नही कर पाता है। जिससे हमारे शरीर के Tissue (ऊतक) Damage होने लगते है और दर्द होने लगता है।

पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल के सेवन से यह बीमारी बढ़ सकती है। इसीलिए इस बीमारी में इसको नही देना चाहिए।

Hemochromatosis (खून में लौह तत्व की अधिकता)

जब हमारे खून में लौह तत्व की अधिकता होती है तो पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल का इस्तेमाल न करें। क्यों कि इसके सेवन से आपके खून में लौह तत्व और अधिक हो जायेगा जिससे आपको भयंकर बीमारी हो सकती है।

Allergy (एलर्जी)-

इसके सेवन से यदि आपको किसी भी तरह की एलर्जी होती है तो इसको न ले, नही तो पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल लेने के बाद आपको एलर्जी की समस्या और बढ़ सकती है।

Increase heart rate ( हृदय की धड़कन का बढ़ाना)-

इसके सेवन से आपके हृदय की धड़कन तेज हो सकती है। इसीलिए समय समय पर आप अपनी हृदय की धड़कन की जांच करते रहे।

Dizziness (सिर चकराना)-

पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल के सेवन करने के बाद आपका सिर चकरा सकता है।

Increase uric acid (यूरिक एसिड का बढ़ाना)-

लगातार सेवन से आपका यूरिक एसिड बढ़ सकता है। जिसके कारण आपको Gout (गठिया) की समस्या हो सकती है। इसीलिए जब भी आप पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल को लंबे समय से इस्तेमाल कर रहे हो तो अपने यूरिक एसिड की जांच जरूर करवाये।

● Constipation (कब्ज)-

यदि आप अशुद्ध शिलाजीत का इस्तेमाल करते हैं तो इससे आपको Constipation (कब्ज) की शिकायत हो सकती है।

शिलाजीत कैप्सूल Price (दाम) –

Patanjali Shilajeet Capsule – 85₹/ 20 capsules

Note- यह एक Informational blog है। पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल को प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से जरूर सलाह लें।


Share Karo Na !
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

1 thought on “Patanjali Shilajit Capsule uses। Side effects in हिन्दी”

Leave a Comment