Diarrhea: Causes| Treatment |Prevention in Hindi | Ourhealthyindia

Share Karo Na !
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

 हेलो इंडिया !! डायरिया एक गंभीर समस्या है । गर्मी के मौसम में 90% लोग डायरिया से पीड़ित रहते है । जब एक दिन में दो से तीन बार दस्त (loose motion ) हो तो उसे डायरिया कहते है । डायरिया आंत में संक्रमण के कारण होता है । इस पोस्ट को ध्यान से पढ़िए , यह पोस्ट बच्चे और बड़ो के लिए अत्यंत लाभदायक है ।

Table of Contents



डायरिया के लक्षण : 1-  जब दिन में दो से तीन बार दस्त होता है । 

डायरिया के कारण :- डायरिया के निम्नलिखित कारण है –

 1 -दूषित भोजन :- दूषित भोजन करने से आंत में संक्रमण हो जाता है । इसके कारण डायरिया का खतरा बढ़ जाता है ।
2 – दूषित जल :- दूषित जल के सेवन करने से डायरिया का खतरा बढ़ जाता है ।
3 -अत्यधिक  वसा युक्त भोजन करने से – अत्यधिक वसा युक्त भोजन करने से , भोजन आंत में अच्छे तरीके से अवशोषित नही हो पाती जिससे दस्त होने लगता है।
4 -बाहर का खुली चीजें खाने से – बाहर की खुली चीजे खाने से आंत में संक्रमण हो जाता है ,जिसके कारण डायरिया हो जाता है ।

मलेरिया के रोकथाम के उपाय के बारे में   पढ़ने  के लिए यहाँ क्लिक करे : Maleria : Causes | Treatment | Prevention

डायरिया का रोकथाम – डायरिया को रोकने के निम्नलिखित उपाय है –

1 -ORS  का घोल – ORS  का घोल पिलाने से डायरिया नियंत्रित होता है ।

कुछ फार्मा कम्पनी के ब्रांड निम्न है – Electrol Powder (FDC), Electokind (Mankind) ,Glucose आदि ।
कुछ दवाओ का नाम निम्न है – Norflox-TZ (Cipla) ,O2H (Medley), O2 (Medley), Metronidazole.


सावधानियाँ – डायरिया से बचने के निम्न सावधानिया है –

1 -शुध्द पानी का सेवन करना चाहिए । 2 -शुध्द भोजन का सेवन करना चाहिए ।  3- बाहर की खुली चीजो को न खाए । 4 -समय -समय पर पेट की जाँच करानी  चाहिए ।5- केले  और सेब का सेवन करे । 


High Blood pressure के रोकथाम के उपाय :Blood Pressure : Control and Treatment | Prevention


Share Karo Na !
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

5 thoughts on “Diarrhea: Causes| Treatment |Prevention in Hindi | Ourhealthyindia”

Leave a Comment