Typhoid Fever Treatment in Hindi

Share Karo Na !
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Typhoid fever बहुत ही   खतरनाक बीमारी है जो हमारे  शरीर को क्षति  पहुँचाता है । अब आप लोग अपने आप को इससे   सुरक्षित रख सकते है ।

मुझे आशा आप सभी लोगो को Typhoid  बुखार के बारे में पता  होगा ।

 इसलिए आप इस पोस्ट को  आगे पढ़िए !!

 

Typhoid fever एक salmonella typhi नाम के बैक्टीरिया से संचारित होता है  । 

Symptoms of Typhoid (टायफायड के लक्षण ) :-

  टाइफाइड बुखार के  कुछ लक्षण  इस प्रकार हैं जैसे – कमज़ोरी ,  पेट में दर्द ,  constipation , कब्ज , सिरदर्द  आदि । 
 

कुछ विशेष लक्षण :-

 दस्त  और उलटी का होना । 

 
ध्यान रहे अगर कोई व्यक्ति salmonella typhi से infected है तो वो किसी और व्यक्ति को भी संक्रमित कर सकता है  । 
 

Growth of bacteria (को बैक्टीरिया का बढ़ना)-

  इसका संक्रमण आंत और रक्त से होता है । 
यदि कोई व्यक्ति दूषित जल और  भोजन का सेवन करता है तो उसको संक्रमण होने का खतरा रहता है। 

Treatment (उपचार ):- 

 इस  बीमारी से बचने के लिए कुछ एंटीबायोटिक्स का उपयोग किया जाता है जो निम्न है :-
 
1-Azithromycin
2-Fluoroquinols
3-Ciphalosporins
There are some company manufactured antibiotics for treatment of typhoid fever.
1-Azee500 (Azithromycin)    cipla    
2-Zathrin 500 (Azithromycin)  Fdc 
3- HCQS – IPCA    
 

बचाव :-

टाइफाइड से बचने के लिए निम्न उपाय करना चाहिए ।
  1. प्रदूषित जल का सेवन नहीं करना चाहिए ।
  2. प्रदूषित भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए 
  3. भोजन को धक कर रखना चाहिए । 
मलेरिआ के  उपचार एवं बचाव के  detail से पढ़ने के  लिये यहाँ क्लिक करे। 
Maleria :- Symptoms | Transmission | Prevention
 
यदि ,यह लेख आपको पसंद आया तो कृपया इस लेख को अपने मित्रो के साथ शेयर करे। 
 
 

Share Karo Na !
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment